Seo Guide For Beginners – एसईओ क्या है और यह कैसे काम करता है?

SEO का पूरा नाम सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization) है। किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग की सफलता के लिए SEO एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है| एसइओ के बिना किसी भी Website या Blog का सफल होना लगभग नामुनकिन होता है| SEO, इन्टरनेट मार्केटिंग (Internet Marketing) की एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जिसको अपनाकर बड़ी बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनियाँ दुनिया में छा जाती है| यह SEO ही है जिसका उपयोग करके कोई भी वेबसाइट सर्च इंजन जैसे गूगल, याहू आदि में पहले पेज पर प्रदर्शित होती है|

SEO क्या है – What is Search Engine Optimization

SEO का सीधा सा अर्थ यह होता है कि अपनी वेबसाइट या पोस्ट में इस प्रकार सुधार करना कि हमारी वेबसाइट या पोस्ट सर्च इंजन के पहले पेजों पर प्रदर्शित होने लगे|

सर्च इंजन में विभिन्न कीवर्ड्स (Search Query) सर्च करके ही सबसे ज्यादा से ज्यादा लोग किसी भी वेबसाइट तक पहुँचते है यानि कि किसी भी वेबसाइट के ट्रैफिक का मुख्य स्त्रोत सर्च इंजन जैसे गूगल, याहू आदि होते है| इन्टरनेट पर मौजूद अनगिनत वेब पेजों (Web pages) में से सबसे अच्छे वेब पेजों  को यूजर (user) के लिए उपलब्ध कराना Search Engine का मुख्य काम होता है। इस कार्य को करने के लिए सर्च इंजन बोट्स या सॉफ्टवेयर (Search Engine Bots or Software) होते है जो विभिन्न बातों या नियमों (Search Algorithms) को ध्यान में रखकर, सर्च किये गए शब्दों से सम्बंधित सबसे अच्छे वेब पेजों को सर्च इंजन के पहले पेज पर प्रदर्शित करते हैं।

किसी भी वेबसाइट को सर्च इंजन (search Engine) के पहले पेजों में प्रदर्शित होना कई बातों (SEO Factora) पर निर्भर करता है| जैसे वेबसाइट की डिजाईन (Design), पोस्ट की गुणवता (Quality Content), पोस्ट का सर्च किए गए कीवर्ड्स से सम्बन्ध, लोगों द्वारा वेबसाइट को पसंद किया जाना या ज्यादा से ज्यादा वेबसाइट पर समय बिताना, पोस्ट को प्रदर्शित करने का तरीका, बैकलिंक्स (Back-links) और भी कई सारे अन्य कारण। इन्ही सब बातों (SEO Factors) को ध्यान में रखकर वेबसाइट या पोस्ट में सुधार या बदलाव करना ही SEO कहलाता है|

सर्च इंजिन कैसे काम करता है – How Search Engine Work

SEO को अच्छे से समझने के लिए यह आवश्यक है कि हम इस बात को समझें कि सर्च इंजन कैसे काम करता  है| इन्टरनेट पर एक ही विषय से सम्बंधित लाखों करोड़ों वेब पेज होते है लेकिन जब हम किसी भी Search Query को Google Search Box में टाइप करते है तो सबसे पहले पेज पर उस Search Query से सम्बंधित सबसे अच्छे परिणाम ही प्रदर्शित होते है|

सर्च इंजन का मुख्य काम ही यही होता है कि वह इन्टरनेट पर मौजूद करोड़ो वेबपेजों को स्कैन करके सबसे अच्छे परिणामों को पहले प्रदर्शित करे और ऐसा करने के लिए सर्च इंजन विभिन्न Search Engine Algorithms (सर्च परिणामों की रैंकिंग के नियम) का उपयोग करता है|

serch engine kaise kam karta hai

Crawling:  

सबसे पहले सर्च बोट्स या सॉफ्टवेयर के द्वारा इन्टरनेट पर मौजूद अरबों वेबपेजों को स्कैन करके हर पेज की सम्पूर्ण जानकारी को प्राप्त किया जाता है, इसी प्रक्रिया को crawling कहतें है|

Ranking and Indexing:

Crawling के बाद सभी वेब पेजों को विभिन्न प्रकार से रैंकिंग देकर उनकी indexing की जाती है| वेबपेजों की रैंकिंग के लिए Keywords/Search Query, Country, Content Quality, Backlinks, Reliability, Relevancy जैसे हजारों तरह की बातों (Search Engine Algorithms) को ध्यान में रखा जाता है ताकि Search Query से सम्बंधित सबसे अच्छी पोस्ट ही पहले प्रदर्शित हो|

Search Query & Search result:

जब इन्टरनेट यूजर सर्च में कुछ भी query डालकर सर्च करता है तो सर्च इंजन के सॉफ्टवेयर सेकंड से भी कम समय में पहले index किये हुए वेब पेजों में से सबसे relevant वेबपेजों को तुरंत प्रदर्शित कर देता है|

SEO क्यों ज़रूरी है – Why SEO is important

किसी भी वेबसाइट पर सबसे ज्यादा visitors सर्च इंजन के द्वारा पहुँचते है| इसलिए हर वेबसाइट का सर्च इंजन में पहले पेजों पर प्रदर्शित होना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है|

सर्च इंजन में Crawling, Ranking & Indexing, Search Result आदि की प्रक्रिया बहुत जटिल होती है जो कि Search Engine के ऑटोमेटेड सॉफ्टवेयर द्वारा की जाती है| अगर कोई वेबसाइट SEO का उपयोग नहीं करती है, तो Google Bots (Software) के लिए उस वेबसाइट के वेबपेजों को समझना मुश्किल हो जाता है और इसलिए उस वेबसाइट का सर्च इंजन में प्रदर्शित होना मुश्किल हो जाता है|

उदाहरण के लिए happyhindi.com पर सबसे ज्यादा लोग सर्च इंजन के द्वारा “Hindi Story” सर्च करके पहुँचते है| और अगर मैं हैप्पीहिंदी.कॉम पर प्रकाशित होने वाली कहानियों में “Hindi Story” शब्द का उपयोग न करूँ, तो गूगल में “Hindi Story” सर्च होने पर हैप्पीहिंदी.कॉम की पोस्ट्स कभी प्रदर्शित नहीं होगी, भले ही हैप्पीहिंदी.कॉम पर अच्छी से अच्छी कहानियां मौजूद है|

इसलिए SEO का मुख्य उद्देश्य अपनी वेबसाइट को Search Engine Friendly बनाने से है ताकि सर्च इंजन हमारी वेबसाइट पर मौजूद जानकारी को समझ पाए और उसे सर्च इंजन में प्रदर्शित कर सकें|

क्या एक आम Blogger SEO कर सकता है – Can I Do SEO

Website का सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना कोई बड़ी बात नहीं है। Domain name खरीदने से ले कर पोस्ट की Quality किस तरह की होनी चाहिए और Published पोस्ट को किस तरह से प्रोमोट (effectively promote) किया जा सकता है, इन सभी पहलुओं की जानकारी आज इन्टरनेट पर आसानी से उपलब्ध है।

कोई भी व्यक्ति इन जानकारी का उपयोग करके SEO को समझ सकता है|

ऑन पेज एसईओ क्या है – What Is on page SEO

On Page SEO की प्रक्रिया में पोस्ट या वेबसाइट पर किए जाने वाले सभी बदलाव या सुधार शामिल है जैसे अच्छी quality का content तैयार करना, content और heading से related long tail keywords उपयोग  करना, हर pages को attractive और suitable title देना।

ऑफ पैज SEO क्या है – What is off page SEO

Of Page SEO के अंतर्गत वेबसाइट पर किये जाने वाले बदलाव के आलावा सभी प्रकार के कार्य शामिल है जैसे  website के लिए Link building करना, Social Sharing, अपनी website को अलग अलग open website directories में submit करना आदि

ब्लैक हैट SEO क्या है – What is Black Hat SEO

Black Hat SEO का मतलब गलत तरीकों से सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना है| जब कोई वेबसाइट search engine के नियमों को नजरंदाज करते हुए गलत तरीके से सर्च इंजन के टॉप में आना चाहती है तो इसे black hat सो कहते है जैसे सर्च इंजन में आगे आने के लिए अनावश्यक keywords का उपयोग करना, fraud तरीके से backlinks create करना आदि|

व्हाइट हैट SEO क्या है – What Is White Hat SEO

Search Engine को Guidelines ध्यान में रखते हुए SEO के विभिन्न तरीकों को अपनाना White Hat SEO कहलाता है|

11 Comments

  1. Hitendra July 22, 2016
  2. Saurav Khatri July 22, 2016
    • HappyHindi July 22, 2016
  3. P K Rathour July 22, 2016
    • HappyHindi July 22, 2016
  4. VIJAY PANARA August 8, 2016
  5. Nicolas Stachura August 24, 2016
  6. purshottam sahu April 11, 2017

Leave a Reply