PPF Investment in Hindi – पीपीएफ में निवेश करके कीजिये अपना भविष्य सुरक्षित

PPF: Important Points

  • PPF एक सुरक्षित (Risk Free) और टैक्स बचाने वाली (Tax Saving) दीर्घकालीन निवेश योजना हैं|
  • PPF की ब्याज दरें (Interest Rates) 8% के आस पास रहती हैं|
  • PPF की सामान्य अवधि (Maturity Period) 15 वर्ष  होती हैं|
  • पोस्ट ऑफिस या बैंक में सामान्य KYC Documents देकर PPF Account खोला जा सकता हैं|

भारतीय अर्थव्यवस्था में अधिकतर लोग निवेश(Invest) करने के लिए या तो बैंक में फिक्स्ड़ डिपोजिट्स को प्राथमिकता देते हैं या फिर जो लोग जोखिम उठाना चाहते हैं वो शेयर बाज़ार और Mutual Fund की ओर रुख कर लेते हैं। लेकिन इसके अतिरिक्त सरकार भी समय-समय पर सुरक्षित निवेश (Low Risk Investments) को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं लाती हैं। इसी प्रकार की योजनाओं में एक है – Public Provident Fund या PPF में Invest करना। पीपीएफ में इनवेस्टमेंट करना ज्यादातर लोगों के लिए एक बेहतरीन निर्णय होता हैं क्योंकि यह अच्छा Return देने के साथ सबसे अधिक सुरक्षित Saving Scheme मानी जाती है। आइये पब्लिक प्रोविडेंट फंड निवेश के बारे में और अधिक जानते हैं:

What is PPF (Hindi) – पब्लिक प्रोविडेंट फंड क्या है:

पब्लिक प्रोविडेंट फंड या PPF सरकार के ओर से Long Term Investment को बढ़ावा देने के लिए चलायी गयी योजना है। यह बचत योजना ट्रिपल ई श्रेणी (Triple E Category) या Exempt-Exempt-Exempt में रखी जाती है। इसका अर्थ है की इस Saving Scheme में इन्वेस्ट करने पर आपको निवेश प्रक्रिया शुरू करने से लेकर अंत में Redemption के समय तक, कहीं भी और किसी भी स्तर पर कोई टैक्स नहीं देना होगा।

इस बचत योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा 1968 में Unorganised Sector में लगे कर्मचारियों के लिए शुरू की गयी थी। उस समय इन कर्मचारियों के लिए पेंशन और EPF आदि की सुविधा नहीं थी। उस समय लोगों के पास ऐसा कोई साधन नहीं था जिससे वो रिटायरमेंट के बाद किसी भी Investment की एकमुश्त राशि को प्राप्त कर सकें। तब सरकार ने PPF Saving Scheme को शुरू किया और अधिक से अधिक लोग इस ओर आकर्षित हो सकें इसके लिए इस स्कीम को Tax Free Investment के रूप में प्रचारित किया गया।

पढ़ें: Saving Bank Account पर High Interest कैसे प्राप्त करें

Public Provident Fund Account : पीपीएफ खाता

सरकार द्वारा लंबे निवेश को शुरू किया गया Public Provident Fund Investment जिसके अंतर्गत कोई भी व्यक्ति अपनी आय का एक हिस्सा एक खाते के जरिये Invest कर सकता है इसे ही पीपीएफ एकाउंट कहते हैं| यह खता पोस्ट ऑफिस और किसी भी बैंक में खोला जा सकते हैं। इस एकाउंट को आप मात्र 100 रुपए की धन राशि से भी खोल सकते हैं।

Who Can Invest in PPF : पीपीएफ एकाउंट कौन खोल सकता है

PPF Account वास्तव में सिंगल एकाउंट होता है जो कोई भी वयस्क व्यक्ति अपने या अपने बच्चों के नाम से खोल सकता है। इसके अलावा यह खाता पति-पत्नी के नाम से अलग-अलग भी खोला जा सकता है। कोई विदेशी या NRI इस एकाउंट को नहीं खोल सकता है।

PPF Period : पीपीएफ की अवधि

Public Provident Fund Account की अवधि या Lock in Period 15 वर्ष की होती है। इसके बाद भी अगर कोई चाहे तो 5 या 5 वर्ष के लिए इस अवधि को बढ़ा सकता है। Maturity के बाद अगर कोई पैसा न निकालना चाहे तो उस धन राशि पर भी ब्याज (Interest) मिलता रहता है। पीपीएफ एकाउंट को खोलने और चलाने के लिए किसी प्रकार की कोई उम्र की सीमा नहीं होती है। लेकिन एक बात ध्यान देने वाली है की आप अपने जीवन काल में केवल एक ही पीपीएफ एकाउंट खोल सकते हैं। यदि आपने एक से अधिक एकाउंट खोले तो बाद के खोले हुए सभी एकाउंट Deactivate माने जाते हैं और इन एकाउंट्स में रखी धन राशि पर किसी प्रकार का ब्याज भी नहीं मिलता है।

PPF Investment Limit : निवेश राशि

आप न्यूनतम 500 रुपए वार्षिक से PPF Account Investment को शुरू कर सकते हैं। इस प्रकार इस खाते में निवेश करने की न्यूनतम राशि 500 रुपए है जबकि प्रतिवर्ष अधिकतम राशि (Maximum Limit) डेढ़ लाख रूपये (Rs.1.5 Lakh) निवेश किये जा सकते है। सरकार इस लिमिट में बदलाव भी करती रहती हैं|

Deposit Frequency : निवेश कितनी बार:

आप अपने पीपीएफ खाते में वर्ष के हर महीने यानि वर्ष में 12 बार धन का निवेश कर सकते हैं। अगर आप चाहें तो महीने में दो बार भी आप पैसा जमा करवा सकते हैं। लेकिन कुल मिलकर depositing Frequency 12 से अधिक नहीं हो सकती है।

Withdrawal – पीपीएफ से धन निकासी:

आप अपने सामान्य रूप से Maturity (15 वर्ष) के बाद धन को PPF Amount Withdraw कर सकते हैं। 6 वर्ष पूर्ण होने पर PPF में से कुछ हिस्सा नियमों और शर्तों का पालन करने पर निकला ला जा सकता हैं|

PPF Loan 

अगर आप चाहें तो आप PPF में अपनी जमा राशी पर Loan ले सकते हैं। आप कितना लोन ले सकते हैं यह निर्भर करता है की आपने पिछले कुछ वर्षों में कितना धन निवेश किया है।

आपके पिछले Financial Year में जमा धन राशि का 25% Loan के रूप में ले सकते हैं।  PPF LOAN के लिए आवेदन करने से पूर्व आपको निम्न बातों का ध्यान रखना होगा:

  • आपके खाते में नियमित रूप से कम से कम 500 रुपए हर वर्ष जमा होते आ रहे हों। ऐसा न होने पर आपको लोन नहीं मिल सकता है। इसके सुधार के लिए आप यह कर सकते हैं की अगर आपने पिछले किसी वर्ष में Minimum Amount Deposit नहीं करवाया है तो उसे Penalty के साथ जमा कर दें।
  • अगर आप एक वर्ष पीपीएफ खाते से लोन ले चुके हैं तो आप उसी वर्ष दोबारा लोन के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं। जब तक आप पहले लिया गया लोन पूरी तरह से चुका नहीं देते हैं आप नए लोन लेने के पात्र नहीं होते हैं।
  • अगर आप एक ही वित्तीय वर्ष के तीन महीने में लोन का भुगतान कर देते हैं तब भी आप उसी वर्ष दूसरे लोन के अधिकारी नहीं होते हैं। इस स्थिति में भी आप अगले वर्ष ही लोन लेने के योग्य होते हैं।
  • आपको अपने PPF Loan Amount पर, खाते पर मिल रहे Interest Rate से 2% अधिक ब्याज देना होगा। जैसे यदि आप अपने पीपीएफ खाते पर 12% की दर से ब्याज ले रहे हैं तो आपको लोन पर 14% ब्याज देना होगा।
  • जब आप अपने पीपीएफ खाते पर लोन लेते हैं तो इसका भुगतान आपको 36 माह के भीतर ही करना होता है। यह आप पर निर्भर करता है की आप यह Loan Amount को Lumpsum देते हैं या फिर Instalment में देते हैं। यदि आप निर्धारित अवधि में लोन की रकम नहीं चुकाते हैं तो 36 Months के बाद आपको 6% अतिरिक्त ब्याज देना होगा।

Interest Rates : पीपीएफ खाते का ब्याज

सरकार की ओर से PPF Account Interest Rate हर वर्ष निर्धारित की जाती है। इस समय यह ब्याज दर 8.1% चल रही है। इस ब्याज दर की गणना करके 31 मार्च को यह राशि आपके खाते की Statement में जोड़ दी जाती है। आपके खाते में Compound Interest Rate के आधार पर हर वर्ष ब्याज आपकी जमा राशि पर जोड़ दिया जाता है।

Tax Benefits – टैक्स छूट

आयकर की धारा 80 C के अनुसार आप अपनी Income में से जितना भी पीपीएफ में जमा करते हैं, उस पर कोई टैक्स नहीं लगता है। 80C में सभी निवेश मिलाकर Maximum 150000 रूपये तक की Income पर Tax Benefit मिल सकता हैं| इसके अलावा आपकी जमा राशि पर जो ब्याज मिलता है वो भी टैक्स फ्री होता है।

How to Open A PPF Account – पीपीएफ खाता कैसे खोलें

Public Provident Fund Account खोलने के लिए आप किसी भी सरकारी या निजी बैंक या फिर नजदीक के पोस्ट ऑफिस में जा सकते हैं। इसके लिए आपको निम्न Documents की जरूरत हो सकती है:

Documents Required For PPF Account

  1. आपके घर के पते, पहचान और सिग्नेचर की पहचान के लिए आपका पासपोर्ट, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेन्स, मतदाता कार्ड, Employer’s Letter, Utility Bill, किराए/लीज़ का एग्रीमेंट, बैंक स्टेटमेंट, राशन कार्ड या फिर साइन किया हुआ चेक आदि में से कोई भी डोक्यूमेंट आप प्रयोग कर सकते हैं।
  2. आपके Photograph;
  3. जहां से आप एकाउंट खोलने जा रहे हैं वह से PPF Account Application Form ;
  4. यदि यह एकाउंट अवयस्क व्यक्ति का है तो उस बच्चे का Birth Certificate या फिर School Certificate का प्रयोग किया जा सकता है;

अगर आप यह एकाउंट ऑनलाइन खोल रहे हैं तो संबन्धित बैंक या पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट के जरिये भी यह काम कर सकते हैं।

Benefits of PPF Investment – पीपीएफ में निवेश के फायदे 

1. दीर्घकालिक निवेश: Long Term Investment

पीपीएफ का निवेश Long term Investment के रूप में सबसे अच्छा निवेश माना जाता है। इसका Lock-in-period 15 वर्ष है और 7 वर्ष से पूर्व आप किसी भी तरह का Withdrawal या loan भी नहीं ले सकते हैं। इसके अलावा Compound Interest होने के कारण यह निवेश बैंक की Fixed Deposits से भी अच्छी Saving Scheme मानी जाती है।

2. अच्छे रिटायरमेंट प्लान: Retirement Planning

लंबी अवधि का निवेश, कंपाउंड दर से ब्याज, कर मुक्त आय और मूल धन राशि की सुरक्षा मिलकर यह एक बहुत अच्छा रिटायरमेंट प्लान माना जाता है।

3. टैक्स फ्री आय: Tax Benefits

इस निवेश का और इसकी आय का टैक्स मुक्त होना ही इसका सबसे बड़ा लाभ है।

4. न्यूनतम रिस्क: Low Risk Investment

सरकार के द्वारा संचालित होने के कारण इसमें जोखिम की मात्रा नहीं के बराबर होती है।

5. सरल पहुँच: Easily accessible

आप पीपीएफ एकाउंट को किसी भी Nationalised Bank, Public Bank या फिर चुने हुए Private Bank और Post Office में से किसी में भी बैंक में खोल सकते हैं। आजकल तो आप ऑनलाइन भी इस खाते को खोल सकते हैं।

6. कुर्क रहित: No Attachment

कोर्ट की ओर से पीपीएफ एकाउंट को कुर्की का आदेश भी नहीं आ सकता है।

 

Investment और Money Management से सम्बंधित इन हिंदी लेखों को भी जरूर पढ़ें:

5 thoughts on “PPF Investment in Hindi – पीपीएफ में निवेश करके कीजिये अपना भविष्य सुरक्षित

  1. पैसा तो हर कोई कमाता है लेकिन बचत हर कोई नहीं करता जिससे बाद में परेशानियां आती है. तो आपने बहुत अच्छी जानकारी दी पीपीएफ के बारे में धन्यबाद

  2. यह मूल्यवान पोस्ट हमारे साथ शेयर करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

  3. बहुत अच्छी पोस्ट है| आपसे एक सवाल पूछना था| मुझे कहीं भी इसका सही से जवाब नहीं मिला|
    एक नाबालिग के PPF अकाउंट में अभिभ्वक बदलने की क्या प्रक्रिया है| जैसे की पिता की बजाय माता को अभिभ्वक बनाना हो| पिता अभी भी जीवित हैं|

Leave a Comment