Motivational Story in Hindi

क्या है खुश रहने का राज़ – Secret of Happiness In Hindi Motivational story

क्या है खुश रहने का राज़

Secret of Happiness In Hindi -Motivational story

 

Motivational Story in Hindi

एक समय की बात है, एक गाँव में महान ऋषि रहते थे| लोग उनके पास अपनी कठिनाईयां लेकर आते थे और ऋषि उनका मार्गदर्शन करते थे| एक दिन एक व्यक्ति, ऋषि के पास आया और ऋषि से एक प्रश्न पूछा| उसने ऋषि से पूछा कि “गुरुदेव मैं यह जानना चाहता हुईं कि हमेशा खुश रहने का राज़ क्या है (What is the Secret of Happiness)?” ऋषि ने उससे कहा कि तुम मेरे साथ जंगल में चलो, मैं तुम्हे खुश रहने का राज़ (Secret of Happiness) बताता हूँ|

ऐसा कहकर ऋषि और वह व्यक्ति जंगल की तरफ चलने लगे| रास्ते में ऋषि ने एक बड़ा सा पत्थर उठाया और उस व्यक्ति को कह दिया कि इसे पकड़ो और चलो| उस व्यक्ति ने पत्थर को उठाया और वह ऋषि के साथ साथ जंगल की तरफ चलने लगा|

कुछ समय बाद उस व्यक्ति के हाथ में दर्द होने लगा लेकिन वह चुप रहा और चलता रहा| लेकिन जब चलते हुए बहुत समय बीत गया और उस व्यक्ति से दर्द सहा नहीं गया तो उसने ऋषि से कहा कि उसे दर्द हो रहा है| तो ऋषि ने कहा कि इस पत्थर को नीचे रख दो| पत्थर को नीचे रखने पर उस व्यक्ति को बड़ी राहत महसूस हुयी|

तभी ऋषि ने कहा – “यही है खुश रहने का राज़ (Secret of Happiness)”| व्यक्ति ने कहा – गुरुवर मैं समझा नहीं|

तो ऋषि ने कहा-

 

जिस तरह इस पत्थर को एक मिनट तक हाथ में रखने पर थोडा सा दर्द होता है और अगर इसे एक घंटे तक हाथ में रखें तो थोडा ज्यादा दर्द होता है और अगर इसे और ज्यादा समय तक उठाये रखेंगे तो दर्द बढ़ता जायेगा उसी तरह दुखों के बोझ को जितने ज्यादा समय तक उठाये रखेंगे उतने ही ज्यादा हम दु:खी और निराश रहेंगे| यह हम पर निर्भर करता है कि हम दुखों के बोझ को एक मिनट तक उठाये रखते है या उसे जिंदगी भर| अगर तुम खुश रहना चाहते हो तो दु:ख रुपी पत्थर को जल्दी से जल्दी नीचे रखना सीख लो और हो सके तो उसे उठाओ ही नहीं

 

Read: 

कहानियां, जो जिंदगी बदल सकती है – Inspirational Hindi Stories That Can Change Your Life

जीवन क्या है? – Meaning of Life In Hindi

Published by

HAPPYHINDI

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया इसे फेसबुक एंव अन्य सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे लेख लिखने के लिए प्रेरित करेगा|

231 thoughts on “क्या है खुश रहने का राज़ – Secret of Happiness In Hindi Motivational story”

  1. bahut khub mane be apni life me aise kai boj uthye ab lagata hai in he yahi fak dena chahiye or age bada na chaiye happy life …

    1. khwahiso se nahi girte hai phool jholi mein karm ki shakh ko hilana hoga khuchh nahi hota koshane se andhere ko apne hisse ka diya khud hi jalana hoga

  2. Achchi story hai ,but dear brother and sister just look at your self and take your time and jada socho aap sab log apni jindagi me ek struggle pe or ek na ek din struggle kab success pe or unhappy kab happy pe Badal jayegi aapko Pata nai chalega…..hum sab ke andar ek writer chupa hai ..kabhi khudko tarasho…..

  3. good nice story
    sahi baat kahi hai apne…
    past ke bare me ya jo b hamre sath bura ho chuka uske bare me soch kr koi matlab nhi baki
    usse sikh lekar aur apna present best banna chahiye. fijul tension lene se hme hi taklif milegi…..
    it’s very nice thought .

  4. सही मै बहुत अच्छी कहानी है ये तो खुश रहना तो हमारे बस मै और दुखी रहना भी हमारे बस मै है ..

    1. Problems solved to khud hi ho jati h agr esi story padh lo to thanks sir . apki storys padh kr Mera maan me positiveness aa badh jati h kuch kaam krne ki…

  5. Bhoot hi kimti stories hai sir mere dimag se tensn door krne me bhoot hi labhdaek hooi hai. Aeb acha mhsoos ho RHA hai …very very thanks sir

  6. Yes very intersting stories but remember one thing in life whatever u do in ure life first think about is outcomes after …than do the work how they change ure life …

  7. जिस तरह इस पत्थर को एक मिनट तक हाथ में रखने पर थोडा सा दर्द होता है और अगर इसे एक घंटे तक हाथ में रखें तो थोडा ज्यादा दर्द होता है और अगर इसे और ज्यादा समय तक उठाये रखेंगे तो दर्द बढ़ता जायेगा उसी तरह दुखों के बोझ को जितने ज्यादा समय तक उठाये रखेंगे उतने ही ज्यादा हम दु:खी और निराश रहेंगे| यह हम पर निर्भर करता है कि हम दुखों के बोझ को एक मिनट तक उठाये रखते है या उसे जिंदगी भर| अगर तुम खुश रहना चाहते हो तो दु:ख रुपी पत्थर को जल्दी से जल्दी नीचे रखना सीख लो और हो सके तो उसे उठाओ ही नहीं

  8. किसी भी काम को बोझ नही समझना
    कार्य को आन्नद पुर्वक करना

  9. an inspiring thought from a bestseller book….

    God needs not our advice…. and god is always right….. so be happy in whatever he is doing…..

  10. प्रत्येक व्यक्ति को खुश रहने का पूरा अधिकार है और वो ज़िन्दगी किस काम का सिर्फ दुःख में बितायी गयी हो. बहुत बढ़िया प्रेरणा दायक कहानी.

    आभार,
    प्रकाश कुमार निराला
    #HindiTechTricks

  11. thanks for sharing a loving and motivational story i like it so much i hope all the who read this story try for Chang our life thanks for this.

  12. i would like to say all just , every moment of life u make try to be happy and what come may remember smile to everyday…thanks to universe of god..

  13. es story se lakho log khus rah sakate hai es kahani ko apne aap par laagu karenge to. your brijesh rajbhar villege mahamoodpur post nonahara pin 233303 dist ghazipur

  14. Very inspiring story, BT importent to ye h ki hm is story ko apne life me follow kare tab is story ka sahi matlb h……. Life is too short

  15. बहुत ही प्रेरक कहानी है! साझा करने के लिए धन्यवाद!

  16. Nice story. Kaash meri taklifein bhi is pathar ki tarah hoti to main kab ka rakh chuka hota bohot jyada samay ho gaya ab tak na mere dukh kam hue na mera dard.

  17. जो भी दुःख आये उसे जल्दी से जल्दी हल कर लेना चाहिए इसी में सुख हैं।

  18. जो भी दुःख आये उसे जल्दी से जल्दी हल कर लेना ही सुख हैं।

  19. sir this story are very attached to my life
    and I promish to myself today I will never abset in my life. thank you very mush for
    this story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *