कूड़ेदान में कचरा फेंकिये, फ्री वाई-फाई मिलेगा ! – Wi Fi Trash Bin


wi fi trash bin

अगर आपको कूड़ेदान का इस्तेमाल करने के बदले में फ्री वाई-फाई मिले तो!

सुनने में बड़ा अजीब लगता है, लेकिन मुंबई के दो कॉमर्स ग्रेजुएट्स राज देसाई और उनके दोस्त प्रतीक अग्रवाल ने वातावरण को स्वच्छ रखने और इन्टरनेट की जरूरत को ध्यान में रखते हुए एक ऐसे ही कूड़ेदान का अविष्कार किया है, जिसमें कचरा फेंकने पर फ्री वाई-फाई का प्रयोग किया जा सकता है और इस कूड़ेदान को नाम दिया है – वाई फाई ट्रैश बिन – Wi fi Trash Bin|

 

कैसे काम करता है वाई-फाई ट्रैश बिन – How Wi Fi Trash Bin Works

इस अनोखे कूड़ेदान में जब कचरा डाला जाता है, तो इस कूड़ेदान के ऊपर लगी LED स्क्रीन पर पर एक कोड डिस्प्ले होता है जिसका इस्तेमाल करके फ्री वाई-फाई का उपयोग किया जा सकता है|

wi fi garbage bin

कूड़ा फेंकते ही लेड स्क्रीन पर कोड डिस्प्ले होने के साथ ही ट्रैशबिन में लगे सेंसर के माध्यम से ट्रैशबिन के ऊपर लगा वाई फाई राऊटर एक्टिवेट हो जाता है जिससे यूजर उस यूनिक कोड का इस्तेमाल करके फ्री वाई फाई का प्रयोग कर सकते है|    

इस प्रोजेक्ट को सफल बनाने के लिए राज और प्रतीक ने MTS और Brandmovers के साथ पार्टनरशिप की है|

 

The Founders :- Pratik Agarwal and Raj Desai

राज और प्रतीक ने तकनीक के प्रयोग से समस्याओं को सुलझाने के लिए 2011 में थिंकस्क्रीन ThinkScream नाम से बिज़नेस शुरू किया| टेक्नोलॉजी क्षेत्र से शिक्षा न होने के कारण शुरू में उन्हें टेक्नोलॉजी के अलग अलग पहलुओं को खुद ही सीखना पड़ा|

वे तकनीक की मदद से छोटी छोटी समस्याओं को हल करना चाहते है| आज होटल, रेस्टोरेंट, मॉल आदि द्वारा विशेष रूप से Wi Fi Trash Bin लगवाए जा रहे है ताकि वहां आने वाले लोगों को फ्री वाई फाई की सुविधा मिलने के साथ साथ वहा का वातावरण स्वच्छ रहे|

What an Idea Sir Ji

स्वच्छता के लिए लोगों को अपनी आदतों में सुधार लाना होता है और वाई फाई ट्रैश बिन जैसे आईडिया लोगों को न केवल स्वच्छता के प्रति प्रेरित करते है बल्कि उन्हें अपनी आदतों में सुधार करने के लिए मजबूर भी कर देते है|

Wi Fi Trash Bin – Video


Like it? Share with your friends!

ए. कुमार राजस्थान से हैं और वे सामान्य तौर पर बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, वित्त और मोटिवेशनल स्टोरी के बारे में लिखते हैं| उनसे [email protected] पर संपर्क किया जा सकता हैं|

3 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *