Hindi Story – The Black Dot

HAPPYHINDI

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया इसे फेसबुक एंव अन्य सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे लेख लिखने के लिए प्रेरित करेगा|

11 Responses

  1. “जीवन का नाम ही चलते रहना है | रुकना या ठहरना बिना धैर्य और स्थिरता के जीवन नहीं|”

  2. सही ही कहा आपने, हमें अपने जीवन के उस पहलू को देखना चाहिए, जिससे हमें उत्साहीत होने का मैका मिले न कि उस Dark Spot को जिसे देख कर निरूउत्साहीत होना पड़े। यदि झुर्रियां हमारे माथे पर पड़ती हैं तो उन्हें ह्द्य पर मत पड़ने दें। उत्साह और उमंग को कभी वद्ध नहीं होना चाहिए। really…inspiring story.

  3. raj agrahri says:

    very nice

  4. ritik says:

    this is the most beautiful story

  5. BHARAT YADUWANSHI says:

    nice story, right….jindgi ke har mod per khushi h bas dekhne wali najar hona chahiye.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *