समय : Time

समय की कीमत : Value of Time

कल्पना कीजिए कि आपके पास एक बैंक अकाउंट है (Bank Account) और हर रोज सुबह उस बैंक अकाउंट में 86,400 रूपये जमा हो जाते है, जिसे आप उपयोग में ले सकते है| आप रूपयों को बैंक अकाउंट (Bank Account) से निकाल कर अपनी तिजोरी में जमा करके नहीं रख सकते| इस बैंक अकाउंट में कैरी फोरवर्ड (Carry Forward) का सिस्टम नहीं है यानि कि जिन रूपयों को आप उपयोग में नहीं ले पाते, वह रूपये शाम को वापस ले लिए जाते है और आपका अब उन पर कोई अधिकार नहीं रहता|

यह बैंक अकाउंट कभी भी बंद हो सकता है| हो सकता है कि कल ही यह बैंक अकाउंट (Bank Account) बंद हो जाए या फिर 2 वर्ष बाद या फिर 50 वर्ष बाद| लेकिन इतना तो निश्चित है कि यह बैंक अकाउंट एक दिन जरूर बंद होगा|

 

 

ऐसी परिस्थिति में आप क्या करेंगे????

जाहिर है आप पूरे के पूरे 86,400 रूपयों का उपयोग कर लेंगे और इन 86,400 रूपयों का उपयोग अच्छे कार्यों के लिए करेंगे क्योंकि यह बैंक अकाउंट (Bank Account) कभी भी बंद हो सकता है|

 

समय अनमोल है: Time is Precious 

क्या आप जानते है कि ऐसा ही एक बैंक अकाउंट हमारे पास होता है जिसका नाम है “जिंदगी (Life)” और इस “जीवन” रुपी बैंक अकाउंट में प्रतिदिन 86,400 सेकंड्स (Seconds) जमा होते है जिनका उपयोग कैसे करना है यह हम पर निर्भर करता है| हम चाहें तो इन 86,400 सेकंड्स का उपयोग बेहतरीन कार्यों के लिए कर सकते है और अगर ऐसा नहीं करते तो यह व्यर्थ हो जाएंगे| यह जीवन रुपी बैंक अकाउंट कभी भी बंद हो सकता है इसलिए देर मत कीजिए आपके जीवन का हर पल अमूल्य है इसलिए समय का सदुपयोग कीजिए|

अगर किसी को भी ऐसा बैंक अकाउंट दे दिया जाए जिसमें रोज 86,400 रूपये जमा हो तो वह व्यक्ति बहुत खुश हो जाएगा और एक रूपया भी व्यर्थ नहीं गवाएंगा | क्या हमारे जीवन के एक सेकंड की कीमत एक रूपये से भी कम है| हम कैसे अपने जीवन की सबसे अनमोल सम्पति को ऐसे ही व्यर्थ गँवा सकते है|

खोया हुआ धन फिर कमाया जा सकता  है, लेकिन खोया हुआ समय वापस नहीं आता| उसके लिए केवल पश्चाताप ही शेष रह जाता है। हर एक दिन को व्यर्थ गंवाना आत्महत्या करने के समान है| बिना समय प्रबंधन के आज तक कोई भी सफल नहीं हुआ|

कबीर दास जी का यह छोटा सा दोहा, जीवन का सबसे बड़ा मंत्र बता देता है-

 

काल करै सो आज कर, आज करै सो अब।
पल में परलै होयेगी, बहुरी करेगा कब।।

 

बीते हुए कल को भूल जाइए, उसका आज कोई वजूद नहीं| आज आपका है, आज एक नयी शुरुआत कीजिए|

 

 

 “जो व्यक्ति अपने समय को नष्ट कर देते है, समय उन्हें नष्ट कर देता है।’’

Published by

HAPPYHINDI

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया इसे फेसबुक एंव अन्य सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे लेख लिखने के लिए प्रेरित करेगा|

53 thoughts on “समय : Time”

  1. आपके ऐसे लेख जीवन जीने के तरीके को बहतर बनाता है।

    लगातार आप ऐसे मोटिवेशनल विचार शेयर करते रहिएगा।

    धन्यवाद

  2. आपके ऐसे लेख जीवन जीने के तरीके को बहतर बनाता है।

    लगातार आप ऐसे मोटिवेशनल विचार शेयर करते रहिएगा।

  3. is tarah ki bate kafi acchi hoti innhe jitna jyada ho sake utna post kijiye taki kisi ka man vichar badle or kuch kar dikhlaye so plz i request all of you post this comment.

  4. WONDERFUL LIFE BANK ACCOUNT

    KEEP IT UP>

    THE BEST IDEA TO UTILIZE LIFE”S TIME, DAILY BALANCE OF A PRECIOUS MINUTE/RUPEE

  5. Kapko meri or se bahut bahut dhanyabad jo apne aisi lekho ko humlogo ke bich rakha h jo Jiwan Jine ke tarike batate .

  6. आपके लेख से मुझे प्रेरणा मिली में एक परीक्षा में 4 बार फ़ैल हो चूका हूँ वजह पड़ने बेठता हूँ तो कुछ और काम करने की सोचता हूँ। टाइम खराब करता हूँ। अब 86400 ₹ का पूरा उपयोग करूंगा

  7. M apni life m afart kar raha hu lekin success nahi ho raha.Kya karoo yaar kuch samnjh nahi aa raha….
    Koi solution bataye.

    1. Apna kam karne ka tarika analyse karo aur problem detect karo. Agar aap mehnat karte hai to bhi success nahi mil rahi to iske do hi karan hai – 1. Ya to aap efficiency se kaam nahi kar rahhe 2. aapka kaam karne ka tarika galat hai

      Jo log us kaam me pahle success ho chuke hai unke baare me jankari jutao ki kaise ve success huye

  8. ye sach h ki insan ko vaqt se pahle or bhagy se jyada kuch nhi milta h but jo insan apne andar ki aatma(insaniyt) ko phchan kr vaqt ke sath chalta h vah bhagy se jyada hasil kr sakta h i think

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *